अर्नब-काण्ड गोदी मीडिया के फर्जी-राष्ट्रवाद को उजागर करता है: #ArnabGate

#ArnabGate: The leaked WhatsApp Chats between Republic TV’s controversial journalist, Arnab Goswami and former BARC chief, Partho Dasgupta suggest that the former had some highly classified information of the Pulwama incident. He also claimed to have benefitted from it. ‘This attack we have won like crazy’. Arnab’s proximity with the PMO is also highlighted in the alleged leaked chat.

#ArnabGate shows Godi Media's fake nationalism.

The Ganga Times: अर्णब गोस्वामी के वॉट्सएप्प चैट लीक मामले (Arnab Goswami WhatsApp Chats leak) में बड़े-बड़े खुलासे सामने आ रहे हैं। रिपब्लिक चैनल के मालिक (Republic TV managing director) अब बुरी तरह से फँसते दिख रहे हैं। टीआरपी स्कैम (TRP Scam) की छानबीन में जब मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल किया था तो इसमें करीब 500 पन्नों की कथित तौर पर अर्णब की वाट्सऐप चैट (ArnabGate) को भी शामिल किया गया था। बार्क प्रमुख (Former BARC CEO Partho Dasgupta) के साथ हुई अर्नब के वाट्सऐप चैट के लीक होने से कई राज खुले हैं!

राष्ट्रवाद का लिया जा रहा है सहारा (Arnab Goswami and Republic TV taking the Fake Nationalism route)
इस मामले (The ArnabGate issue) को दबाने और जनता के बीच अपनी छवि को बचाने के लिए अर्नब गोस्वामी और रिपब्लिक की पूरी टीम राष्ट्रवाद का सहारा ले रही है। अपने पुराने फंडे को इस्तेमाल कर रिपब्लिक टीवी पाकिस्तान (Republic TV Pakistan) का नाम लेकर अपने को बचाने की पूरी कोशिश करती दिख रही है। सोशल मीडिया पर कई तरह के हथकंडे अपनाये जा रहे हैं जिससे लोगों का ध्यान अर्नब की तथाकथित व्हाट्सएप्प चैट (Arnab WhatsApp Chats) के खुलासे से हटकर फर्जी राष्ट्रवाद की तरफ जा अटके।

Hashtags such as #RepublicVsPakistan have started trending on Twitter and other social media.

#ArnabGate: Republic TV seeking the refuge of Fake nationalism and Pakistan to hide its wrongdoings. #RepublicvsPakistan
ArnabGate: Republic TV seeking the refuge of Fake nationalism and Pakistan to hide its wrongdoings. #RepublicVsPakistan

ऐसा क्या कह दिया है अर्नब ने अपनी व्हाट्सएप्प चैट में? (Key issues in the #ArnabGate.)
चैट में गोस्वामी कह रहे हैं कि,”इस हमले को हम जबरदस्त तरीके की तरह जीत गए हैं।” (This attack we have won like crazy.) दिन और समय का संदर्भ पुलवामा नरसंहार से है जिसमें 40 सीआरपीएफ जवानों शहादत (40 CRPF jawans killed in the 2019 Pulwama attack) हुई थी। चैट में दिखाई दे रही उनके इस जीत के सामने आने के बाद ये बात तो साफ़ हो जाती है कि टीवी स्टूडियो में बहाई गई आंसू सिर्फ और सिर्फ घड़ियाली थे। उनके टीवी चैनल ने राष्ट्रवाद के नाम पर बस लोगों को गुमराह किया।

चैट से यह भी संकेत मिलता है कि वैसी बातें जो नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) के कुछ शीर्ष लोगों के पास ही होनी चाहिए थी, जैसे सैन्य मामलों से जुड़े अति-संवेदनशील जानकारियां, लीक हो गई। छह महीने के भीतर कम से कम दो दफा ऐसा हुआ है जब गोस्वामी को मोदी सरकार द्वारा लिए गए प्रमुख फैसलों की जानकारी थी – बालाकोट में सर्जिकल स्ट्राइक (Balakot Surgical Strike) और जम्मू और कश्मीर से धारा 370 को रद्द करना। (Revocation of the special status of Jammu and Kashmir – Article 370)

राष्ट्रीय सुरक्षा में चूक (#ArnabGate shows a major security lapse)

कई नेताओं और बुद्धिजीवियों ने इस अर्नब काण्ड को देश की सुरक्षा में एक चूक बताया है। ट्विटर पर अपनी बात रखते होते कांग्रेस के टी. एस. सिंह देव (TS Singh Deo) ने कहा कि, “अगर बालाकोट स्ट्राइक पर हमारे सैन्य रहस्यों और रणनीतियों को केंद्र सरकार द्वारा निजी कंपनियों को लीक कर दिया जाता है, तो यह एक बड़ी सुरक्षा चूक है। इसपर जांच होनी चाहिए और दोषियों के खिलाफ मुकदमा भी चलना चाहिए। वर्गीकृत सैन्य जानकारी को लीक करना राजद्रोह से कम नहीं है। एक तथाकथित पत्रकार को राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारियां मिलना हमारे लिए अपमानजनक है। यह बताता है कि ये लोग राष्ट्रीय सुरक्षा के बारे में कतई चिंतित नहीं हैं।”

हालाँकि अभी मुंबई पुलिस इस मामले कि तह तक जाने कि जुगत में लगी है, यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा कि आज के भारतीय मीडिया (Indian Media) का एक बड़ा तबका — जिसे लोग गोदी मीडिया (Godi Media) के नाम से भी जानते हैं, देश को फर्जी राष्ट्रवाद कि आंच में झोंक रहा है।

अगर आपके पास भी कोई कहानियां या ब्लॉग है तो हमें भेज सकते हैं। हम उसे ‘गंगा टाइम्स’ पर प्रकाशित करेंगे।

Keep visiting The Ganga Times for Bihar News, India News, and World News. Follow us on FacebookTwitter, and Instagram for regular updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *