पाकिस्तान में मिला 1300 साल पुराना विष्णु भगवान का प्राचीन मंदिर; आखिर कब तक सुरक्षित रह पाएगा?: Pakistan News

Pakistan News: A 1300-year old Lord Vishnu temple has been discovered in Pakistan’s Swat district. The region had been a stronghold of Buddhism and Hinduism in past.

Courtesy: ZeeNews

The Ganga Times: पाकिस्तान में प्राचीन ज़माने के हिन्दू मंदिर मिलने का सिलसिला रूक ही नहीं रहा है। हाल ही में वहां के स्वात शहर में 1,300 साल पहले बनी एक हिंदू मंदिर (Hindu Temple in Pakistan) की खोज हुई है। पाकिस्तानी और इतालवी (Pakistani and Italian) पुरातात्विक विशेषज्ञों द्वारा उत्तर पश्चिमी पाकिस्तान के पहाड़ी इलाके में की गई खुदाई के दौरान इस प्राचीन मंदिर (Ancient Hindu Temple) का पता लगा। पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा (Khyber Pakhtunkhwa, Pakistan) प्रांत के पुरातत्व विभाग ने गुरुवार को बताया कि यह मंदिर भगवान विष्णु (Lord Vishnu Temple) का है। पुरातत्व विभाग के फजले खलीक के अनुसार यह मंदिर 1300 साल पहले हिंदू शाही काल के दौर का बना हुआ है।

बता दें की हिंदू शाही, जिसे काबुल शाही के नाम से भी किया जाता है, ने हिंदुस्तान की सरजमीं पर 850 से 1026 ई तक शासन किया। यह एक हिंदू राजवंश था जिसका शासन काबुल घाटी से गंधार तक और वर्तमान उत्तर पश्चिम भारत तक था। खैबर पख्तूनख्वा (Khyber Pakhtunkhwa, Pakistan) में हुई खुदाई के दौरान, मंदिर स्थल के पास छावनी और पहरेदार के रहने के निशान भी मिले हैं। मंदिर (Hindu Temple in Pakistan) के पास एक पानी का कुंड भी मिला है जहाँ बताया जाता है की पूजा से पहले स्नान का स्थल था।

Courtesy: Swarajya

बारिकोट घुंडई के पहाड़ियों के बीच मिले इन अवशेषों से यह पता चल रहा है कि यहाँ पर विष्णु भगवान (Lord Vishnu Temple) की पूजा का पुराना इतिहास है। बताया जाता है की स्वात का इलाका सांस्कृतिक और धार्मिक इतिहास का बड़ा केंद्र रहा है। बौद्ध धर्म और हिन्दू धर्म के साथ साथ यहां की प्राकृतिक सुंदरता भी पर्यटकों का मन मोह लेती है।

आखिर कितने दिन तक सुरक्षित रह पाएगी ये मंदिर (How long the Hindu temple will survive in Pakistan?)
पाकिस्तान में मंदिरों और गुरुद्वारों (Hindu temple and gurudwara in Pakistan) के खिलाफ हिंसा का पुराना इतिहास रहा है। इसी साल जुलाई के महीने में इसी इलाके में भगवान बुद्ध का एक मूर्ति मिला था, जिसे कंस्ट्रक्शन वर्करों द्वारा बर्बाद कर दिया गया था।

Keep visiting The Ganga Times for more such news and stories. Follow us on Facebook and Twitter for regular updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *