सात निश्चय योजना रैंकिंग में Jehanabad नंबर 1, Nalanda को मिला दूसरा स्थान; जाने बाकियों की स्थिति

Jehanabad tops the Saat Nishchay Yojana ranking of Nitish Kumar’s Bihar Government. Nalanda is ranked 2nd in the October month data, while Sheohar is 3rd.

saat nishchay yojana ranking jehanabad tops, nalanda 2nd
Image Courtesy: Dainik Bhaskar

The Ganga Times, Gaya: बिहार (Bihar) को देश का एक उन्नत राज्य बनाने के लिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) द्वारा लिए गए सात निश्चय की समीक्षा में जहानाबाद जिले (Jehanabad Jila) के प्रदर्शन को सबसे अधिक अंक मिले हैं। विभाग द्वारा जारी किये गए अक्टूबर माह की रैंकिंग में जहानाबाद (Jehanabad) को पहला स्थान मिला है जबकि दूसरे स्थान पर नालंदा रहा (Nalanda Jila)। तीसरा रैंक शिवहर (Sheohar Jila) को मिला जिसने लगातार बेहतर प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया है।

पूर्वी बिहार के ही जमुई जिले (Jamui Jila) का प्रदर्शन काफी सराहनीय रहा है। अक्टूबर महीने की रैंकिंग में जमुई 14वीं पायदान पर है। लखीसराय (Lakhisarai Jila) को 15वां स्थान मिला है, जबकि मुंगेर (Munger) 24वें पायदान पर है। विभागीय रिपोर्ट में यह पाया गया है की सूबे के शहरी क्षेत्रों में नल-जल योजना का मात्र 63.7 प्रतिशत ही पूर्ण हो पाया है। हालाँकि जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में काम तेजी से हुआ है। गावों में 95.1 प्रतिशत घरों में नल-जल योजना का काम पूरा हो चूका है। कई जगह तो शहरी क्षेत्रों में अभी बोरिंग और पाइप बिछाने का काम ही चल रहा है।

बात करें भागलपुर (Bhagalpur Jila) की तो जिले का एक पायदान सुधारना भी एक अच्छी खबर नहीं है। सितम्बर महीने में भागलपुर की रैंक थी 27वी जो इस महीने एक पायदान बढ़कर 26वें स्थान पर पहुंची है। भागलपुर के शहरी क्षेत्र में जलापूर्ति की व्यवस्था में काफी ढिलाई देखि गई और इसी ने जिले की रैंकिंग पर नकारात्मक प्रभाव डाला है।

गली और नाली के पक्कीरण का कार्य शहरी क्षेत्र में 86.1 और ग्रामीण क्षेत्र में करीब करीब पूर्ण हो चूका है। शौचालय निर्माण के मामले में शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में पूरी तरह से काम हो चुका है।

आपको अन्य जिलों की रैंकिंग भी बता दें। सात निश्चय योजना की रैंकिंग के अनुसार बांका (Banka Jila) 19वें स्थान पर है और खगड़िया (Khagaria) 31वें। सुपौल जिले (Supaul Jila) का स्थान 32 है तथा मधेपुरा (Madhepura) 33वें पायदान पर है। 34वें, 35वें, 36वें, और 37वें, पायदान पर है क्रमशः – कटिहार (Katihar), पूर्णिया (Purnia), किशनगंज (Kishanganj), और सहरसा (Saharsa)। अररिया (Araria) का प्रदर्शन सबसे ख़राब है और इसलिए जिले का स्थान सबसे अंतिम 38वें पायदान पर है।

Keep visiting The Ganga Times for such interesting news from Jehanabad, Bihar News, India News, and World News. Follow us on FacebookTwitter, and Instagram for regular updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *