तेज प्रताप यादव बने बिजनेसमैन; RJD प्रदेश अध्यक्ष को दिखा दी बाहर की राह

Tej Pratap Yadav, Bihar’s former Health Minister has turned out to be a businessman. He has started a business of Agarbatti.

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के बड़े सुपुत्र तेज प्रताप यादव अक्सर ही सुर्ख़ियों में बने रहते हैं। उनको हमेशा ही कुछ अलग और नया करने के लिए जाना जाता है। कभी वो भगवान कृष्ण की भूमिका में नजर आते हैं तो कभी जिम करते हुए अपनी वीडियो सोशल मीडिया पर डालते हैं। अभी हाल में लालू पुत्र फिर से ख़बरों में हैं। वो इस वजह से क्योंकि उन्होंने बिजनेसमैन बनने का फैसला किया है। उन्होंने अगरबत्‍ती का कारोबार शुरू किया है। गुरुवार को बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री ने L R नाम से अगरबत्ती ब्रांड लॉन्च किया है। बकौल तेजप्रताप, उनका अगरबत्ती केमिकल फ्री है। इसे बनाने में किसी तरह के रसायन का नहीं बल्कि सिर्फ फूलों का इस्तेमाल किया गया है।

कंपनी का पूरा नाम है लारा प्राइवेट लिमिटेड, जिसे माना जा रहा है कि तेज प्रताप के मम्मी-पापा लालू और राबड़ी के नाम पर रखा गया है। इस कंपनी में काम करने वाले कर्मचारी ने बताया कि अब कई तरह के साबुन और ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी बनाये जाएंगे जिसे पूर्णतया नेचुरल और हर्बल रूप से तैयार किया जाएगा। राजधानी पटना में इसके लिए बड़े शो रूम भी खोलने की तैयारी की जा रही है।

बता दें कि लारा कंपनी के सारे प्रोडक्ट लालू यादव के पुराने खटाल में बनाये जाते हैं। पहले लालू जी वहां बड़ी संख्या मे गाय पालते थे।

दूसरी सुर्खी के मध्य में भी तेज प्रताप ही रहे जब राष्ट्रीय जनता दल के वरिष्ठ नेता और लालू यादव के बेहद करीबी रहे जगदानंद सिंह ने पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के पद से इस्तीफा दे दिया। हालांकि उन्होंने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए इस्तीफा दिया है लेकिन कहा जा रहा है कि इसके पीछे तेज प्रताप का हाथ है जो कि लंबे समय से जगदानंद सिंह को निशाना बना रहे थे। पिछले दिनों पार्टी के 25वें स्थापना दिवस के अवसर पर भी उन्होंने इशारों-इशारों में प्रदेश अध्यक्ष पर कटाक्ष किया था। इसी बात से जगदानंद काफी नाराज चल रहे थे।

अब क्या कहा था तेज प्रताप ने ये भी जान लीजिये। “हम जब बोलते हैं, तो कुछ लोग हंसते हैं, मजाक उड़ाते हैं. लेकिन कौन ‘भौंक’ रहा उसपर हम ध्यान नहीं देते हैं. मेरा कांसेप्ट क्लियर है. मैं किसी से नहीं डरता. सब कुछ मुंह पर बोलता हूं. केवल भगवान से डरता हूं.” आज भी संगठन में कुछ लोग ऐसे हैं जो बस पार्टी कार्यालय में बैठे रहते हैं और संगठन को आगे बढ़ने देना नहीं चाहते।

अगर आपके पास भी कोई कहानियां या ब्लॉग है तो हमें भेज सकते हैं। हम उसे ‘गंगा टाइम्स’ पर प्रकाशित करेंगे।

Keep visiting The Ganga Times for Bihar News, India News, and World News. Follow us on FacebookTwitter, and Instagram for regular updates.

Ganga Times Team

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Next Post

गया जिले का इतिहास क्या है? Gayasur ki kahani & Gaya jila ka itihaas: Vishnupad mandir history

Wed Jul 14 , 2021
What is the history of Gaya district? Kya hai Bihar ke Gaya jila ka itihaas? Gayasur kaise bana Bhagwan Vishnu ji ka bhakt? Gaya kyon famous hai? Jaaniye Vishnupad mandir ka itihas. प्राचीन काल में जब राक्षस लोग तपस्या करने लगते थे देवताओं की तो मानो शामत ही आ जाती […]
Vishnupad Temple History of Gaya jila ka itihaas. Gayasur story