बिहार विधानसभा में तीखी नोकझोंक; नीतीश ने तेजस्वी से पूछा – तुम्हे डिप्टी सीएम बनाया किसने?

Chief Minister Nitish Kumar lost his cool at Tejashwi Yadav in the Bihar Vidhansabha and asked Tejasvi Yadav, ‘who made him deputy CM?’ Tejasvi also raised the issue of criminal cases against Nitish.

Bihar CM Nitish Kumar in Bihar Vidhan Sabha (File Photo)

The Ganga Times, Gaya: जब से बिहार में नए विधानसभा (Bihar Vidhansabha) का गठन हुआ है तब से हर दिन नए नए किस्से बाहर आ रहे हैं। आज शुक्रवार को भी सदन में कुछ ऐसा ही हुआ जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Bihar CM Nitish Kumar) ने तेजस्वी यादव एक-दूसरे पर बरस रहे थे। मुख्यमंत्री ने तो नेता प्रतिपक्ष पर हमला बोलते हुए व्यक्तिगत हो गए। नीतीश ने यहाँ तक कह दिया की तेजस्वी हमारे बेटे के समान हैं और इनके पिताजी (श्री लालू यादव ) हमारी उम्र के हैं। तुमको डिप्टी सीएम (Deputy CM of Bihar) बनाया किसने था? तुम्हारे ऊपर चार्जशीट हो चुका है, तुम क्या करते हो, ये सभी को पता है।

Bihar Vidhansabha got heated with Nitish Kumar and Tejasvi Yadav attacking each other.

आपको बता दें की इस जुबानी जंग की शुरुआत चुनाव के वक़्त ही हो गई थी जब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने तेजस्वी के पिता पर व्यक्तिगत टिपण्णी की थी। सदन में तेजस्वी (Tejasvi Yadav) ने मुख्यमंत्री पर व्यक्तिगत टिप्पणी करते हुए कहा, ‘नीतीश कुमार जी चुनाव के समय लालू जी के नौ बच्चों की बात करते थे। और कहते थे बेटी पर भरोसा नहीं था तो बेटे के लिए नौ बच्चे पैदा किए। अब नीतीश जी ये बतायें की क्या उनको लड़की पैदा होने का डर था, इसलिए उन्होंने दूसरा बच्चा पैदा नहीं किया? शायद मुख्यमंत्री जी को इस बात की जानकारी होगी कि मेरे माता-पिता की सबसे छोटी संतान एक लड़की है, जो हम दोनों भाइयों के बाद पैदा हुई थी।’

इसके बाद विधानसभा (Bihar Vidhansabha) में जबरदस्त हंगामा शुरू हो गया। सदन में भारी शोर-शराबे के बीच उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद (Deputy CM of Bihar Tarkishore Prasad) ने तेजस्वी के बयान को शर्मनाक बताया। श्री प्रसाद ने कहा कि सदन के अंदर इस तरह के बयान सही नहीं हैं और सदस्यों को इस तरह के बातों से बचना चाहिए। मुख्यमंत्री पर इस तरह की टिप्पणी शोभा नहीं देती।

तेजस्वी ने सदन में नीतीश कुमार पर आरोप लगते हुए यह भी कहा की वह 1991 में हुई एक हत्या के मामले में शामिल हैं और कंटेंट चोरी के मामले में उन पर 25 हजार रुपये का जुर्माने भी लगा है। नीतीश कुमार (Bihar CM Nitsh Kumar) को सदन में सृजन घोटाले के आरोपों से भी जूझना पड़ा।

Keep visiting The Ganga Times for news of Bihar Vidhansabha, along with other Bihar news and India news. Follow us on Facebook and Twitter for regular updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *