Thursday, June 30
Shadow

Broken But Beautiful Season 3 Review: A millenial take on Love

Read The Gangatimes review of Siddharth Shukla’s digital debut, Broken But Beautiful Season 3, co-starring Sonia Rathee and Ehan Bhatt. Is it worth your time? Find out.

Broken But Beautiful Season 3 (Photo Credit – IMDb)

प्रेम कहानियाँ वैसे तो अब ‘cliche’ के खाँचे में डाल दी गयी है। मगर रोज़ कुछ ना कुछ कोई ना कोई एक नए तरीके से अपनी प्रेम कहानी सुनाने आ जाता है। Broken But Beautiful Season 3 भी प्रेम कहानी से ही बनी हैं। आप सोच रहे होंगे कि प्रेम कहानी में दिखाने को इतना क्या नया होगा जो तीन सीजन चल गए! दुनिया रोज़ घूमती है और रोज़ बदलती हैं ठीक उसी तरह प्रेम करने का तरीका और प्रेम भी कभी स्थाई नहीं रहता। Broken But Beautiful Season 3 भी इन बदलते प्रेम के तरीक़ो को दिखाने का प्रयास करता है।

आपको पता है प्रेम में दो लोगो के अलावा और क्या constant है? टूटना! जी हाँ प्रेम में टूटना ही ऐसी क्रिया जो हर दो प्रेम करने वालो के बीच मिलेगी। कोई टूट कर प्रेम करना चाहता है तो कोई प्रेम करते करते ही टूट जाता है। Broken But Beautiful Season 3 इसी टूटने की क्रिया को खूबसूरत बताने का प्रयास करती है।

आइए हम जानते है कि Broken But Beautiful Season 3 की क्या है कहानी ?

बता दें कि Broken But Beautiful के पहले दो सीजन में विक्रांत मैसी और हरलीन शेट्टी नजर आए थे। जबकी तीसरे सीजन में पहली दफा सिद्धार्थ शुक्ला की जोड़ी सोनिया राठी के साथ नजर आ रही है। कहानी अगस्त्या राव और रूमी की है। दोनों अपने अपने गुस्से और ताव में रहने वाले इंसान है। अगस्त्या theatre का निर्देशक है। हमेशा गुस्से में रहता है कि लोग उसके ‘Art’ को समझ नहीं पा रहे। उसका मानना है कि गलती उसके Talent में नहीं समाज की सोच में है। वही दूसरी ओर रूमी अलग hangover में है। प्यार का hangover ऐसा है उसे कि उसके हर पल में बस इशान है। किसी भी कीमत पर वह इशान को बस पाना चाहती है। और इशान को पाने के लिए वह अपना मोहरा बनाती है, अगस्त्या को। Love triangle बनता है यहाँ और आखिर में कौन किसको पाता है? कौन कितना टूटता है और कौन कितना खोता है? यह सीरीज इन्ही सब पहलुओं को दिखाते हुए खत्म होती है।

अदाकारी का क्या हैं लेवल इस Broken But Beautiful Season 3 में ?

अदाकारी की बात करें तो सिद्धार्थ शुक्ला अगस्त्या के किरदार को काफी अच्छे ढंग से निभा जाते है मगर पिछले दो सीजन में जो विक्रांत मेसी द्वारा सेट किया गया बेंचमार्क हैं, उसको छूने में नाकाम नज़र आते हैं। वही दूसरी ओर सोनिया राठी अच्छी कोशिश करती है मगर कही कहीओवर नज़र आती हैं। बाकी इशान के किरदार में Ehan bhatt बस खाली जगह को भरते हुए नज़र आते है।

Broken But Beautiful Season 3 में क्या हैं अच्छा और क्या हैं ख़राब ?

तीसरे सीजन की कहानी को और बेहतर लिखा जा सकता था। हालांकि इस सीजन की डायरेक्टर प्रियंका घोष ने अपने डायरेक्शन से कहानी की लचरता को छुपाने की एक अच्छी कोशिश की हैं। शुरुआत के दो एपिसोड में जैसे किरदारों के personality trait को build किया गया है वो लोगो को आगे के एपिसोड देखने को मजबूर करता हैं। जीतन हरमीत सिंह की cinematography ‘Larger than life’ और एकता कपूर ‘style’ को कैमरे में कैद करने में सफल दिखती हैं।

कहानी चाहे जितनी ‘cliche’ लगती हो मगर इस Broken but beautiful franchise को जिस वजह से सबसे ज्यादा पसंद किया जाता है, वो है इसका संगीत। इस सीजन भी संगीत ऐसा है कि आपको अंदर तक झकझोर देगा और साथ ही आपको अपने प्रेमी को याद करने ऑयर मजबूर कर देगा। चाहे वो अखिल सचदेवा का तेरे नाल गाना हो या अमाल मलिक का क्या किया है तूने। इस सीरीज की ताकत इसमे भरे प्रेम के इमोशन और संगीत का भारीपन ही है।

क्यों देखे Broken But Beautiful Season 3 ?

तो अगर आपको प्रेम कहानी देखते वक़्त अपने छूटे या छोड़े प्रेम की याद नहीं आती तो यह सिरीज़ ज़रूर देखे। अगर आपने इस franchise का एक भी पार्ट नहीं देखा तो विक्रांत मेसी वाले 2 सीजन तो ज़रूर ही देखिए। सीरीज देखिए या ना देखिए लेकिन मेरी माने तो आप इस सीरिज के तीनों पार्ट के गाने ज़रूर सुनिए। बाकी प्रेम करते रहिए और प्रेम का इज़हार करने या टूटने से मत डरिये। लाइन थोड़ी cliche है मगर यह सत्य है कि ‘आप टूटेंगे तभी तो अंदर रोशनी जा पाएगी’।

अपने अंदर अंधेरे और रोशनी दोनों को संभाल के रखें।

%d bloggers like this: