बिहार में कहाँ देख सकते हैं जंगल वाला शेर और बाघ? Tigers & Lions in Bihar

Where to find Tigers and Lions in Bihar? Which national parks in Bihar have tigers and lions in good numbers? Know about the Wildlife sanctuaries of Bihar and Forests in Bihar. The article also gives you a wider outlook of Bihar’s natural tourism potential.

Tigers and Lions in Bihar. National Parks of Bihar. Wildlife sanctuaries in Bihar
1. वाल्मीकि राष्ट्रीय उद्यान (Valmiki National Park, West Champaran)

वाल्मीकि राष्ट्रीय उद्यान (Valmiki National Park), टाइगर रिज़र्व और वन्यजीव अभयारण्य, बिहार के पश्चिमी चंपारण जिले में भारत-नेपाल सीमा (India-Nepal border) पर, गंडक नदी (Gandak river) के किनारे स्थित है। यह बिहार का एकमात्र राष्ट्रीय उद्यान है। इस जंगल में बंगाल टाइगर (Bengal Tiger) के अलावा भारतीय गैंडे, एशियाई काले भालू, भारतीय तेंदुआ, और जंगली जल भैंस भी पाए जाते हैं। यहाँ 2010 में बाघों की आबादी 10 थी, जो 2013 में बढ़कर 22 हो गई और 2018 में 40 हो गई। वाल्मीकि राष्ट्रीय उद्यान (Valmiki National Park) में हिरणों की भी कई प्रजातियां पाई जाती हैं।

2. कैमूर वन्यजीव अभयारण्य (Kaimur Wildlife Sanctuary, Bhabhua)
Indian Tiger in Kaimur Wildlife Sanctuary, Bihar
Indian Tiger in Kaimur Wildlife Sanctuary, Bihar (TOI)

कैमूर वन्यजीव अभयारण्य (Kaimur Wildlife Sanctuary) बिहार के कैमूर जिले में, भभुआ शहर के निकट स्थित है। लगभग 1,342 किमी 2 (518 वर्ग मील) के क्षेत्र में स्थित, यह बिहार का सबसे बड़ा अभयारण्य है। 2019 में बिहार सरकार ने इसे टाइगर रिजर्व (Tiger reserve in Bihar) के रूप में विकसित करने की योजना बनाई है। कैमूर वन्यजीव अभयारण्य में पाए जाने वाले मुख्य जानवर बंगाल टाइगर, भारतीय तेंदुए, भारतीय सूअर, सुस्त भालू, चार सींग वाले मृग और नीलगाय हैं। यहाँ 70 से भी अधिक पक्षियों की प्रजातियाँ निवास करती है।

3. गौतम बुद्ध वन्यजीव अभयारण्य (Gautam Buddha Wildlife Sanctuary, Gaya)

गौतम बुद्ध वन्यजीव अभयारण्य गया जिले (Gaya district) में झारखण्ड बॉर्डर के नजदीक स्थित है। पूर्व-मध्य भारत की ये प्राकृतिक विरासत झारखंड राज्य के कोडरमा जिले (Jharkhand’s Koderma district) तक फैली हुई है। 259 वर्ग किमी के क्षेत्र में फैला यह अभयारण्य पहले एक निजी शिकार क्षेत्र हुआ करता था। इसे 1976 में स्थापित किया गया था। इस जंगल में आपको कई तरह के बाघ, तेंदुए, भेड़िये, सुस्त भालू, चीतल, चिंकारा आदि मिल जाएंगे।
गया स्थित यह अभयारण्य अपने घने जंगलों (dense forests in Bihar) के लिए भी जाना जाता है। गंगा के निचले मैदानों से लेकर छोटा-नागपुर शुष्क पर्णपाती वनों को भी आच्छादित करता है।

भीमबांध वन्यजीव अभयारण्य (Bhimbandh Wildlife Sanctuary, Munger)
Bhimbandh Wildlife Sanctuary, peacock in bihar
भीमबांध वन्यजीव अभयारण्य में आप कई प्रकार के खूबसूरत मोर भी देख सकते हैं। (indiasanctuaries)

भीमबांध वन्यजीव अभयारण्य जमुई जिले (Jamui district) के पास मुंगेर जिले (Munger district) के दक्षिण-पश्चिम में स्थित है। यह जंगल 681.99 वर्ग किमी में फैला हुआ है और कई प्रकार के मोर (peacock), लंगूर, भालू, तथा नीलगायों का घर है। यहाँ के जीवों और उनकी संख्या की बात करें तो बाघ (3), तेंदुआ (36), मोर (637), भौंकने वाले हिरण (559), जंगली भालू (63), लंगूर (3388), बंदर (612), साहिल (57), वान मुरगी (863), नीलगाय (255), अजगर (39), नयाला (36), गौर (39), और लकड़बग्घा (36) यहाँ के प्रमुख जीव हैं।

बिहार और भारत से जुड़ी इस तरह की दिलचस्प कहानियों को पढ़ने के लिए पर GangaTimes.Com क्लिक करें। अगर आपके पास भी कोई ऐसी कहानियां या ब्लॉग है तो हमें भेज सकते हैं। हम उसे गंगा टाइम्स पर प्रकाशित करेंगे।

Keep visiting The Ganga Times for Bihar News, India News, and World News. Follow us on FacebookTwitter, and Instagram for regular updates.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *