Sunday, May 26
Shadow

Tag: Coronavirus

बिहार में ऑक्सीजन की कमी; NMCH के डॉक्टर बोले- ‘पदमुक्त कर दो मुझे’. Oxygen shortage in Bihar

बिहार में ऑक्सीजन की कमी; NMCH के डॉक्टर बोले- ‘पदमुक्त कर दो मुझे’. Oxygen shortage in Bihar

Latest News, Bihar
In the midst of the second COVID-19 wave, Oxygen shortage in Bihar has started making news. There have been complaints of oxygen shortage at hospitals in Gaya, Bhagalpur and Muzaffarpur. https://www.youtube.com/watch?v=eVrP0ErfhXE Oxygen shortage in Bihar hospitals, while Health Minister Mangal Pandey is clueless. The Ganga Times, Bihar: बिहार के स्वास्थ्य विभाग की स्थिति किसी से छिपी नहीं है। हालात ऐसे हो चुके हैं कि राज्य के कई निजी अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति नहीं हो पा रही है। खैर, जब ऑक्सीजन दिल्ली में कम पड़ रहा हो फिर बिहार की तो बात ही मत पूछो। राज्य में कोरोना के आंकड़ों (COVID-19 in Bihar) पर प्रकाश डालें तो पिछले 20 दिनों में सक्रिय मामले 500 से 40,000 को छू चुका है। राज्य के प्रमुख अस्पतालों जैसे एम्स पटना (AIIMS Patna), इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान (IGIMS) औ...
COVID-19 के बढ़ते प्रकोप से France में तीसरी बार देशव्यापी Lockdown

COVID-19 के बढ़ते प्रकोप से France में तीसरी बार देशव्यापी Lockdown

Latest News, International
Covid-19 Lockdown in France: The European nation has implemented a countrywide lockdown. The Ganga Times, COVID-19 in France: कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की तीसरी लहर को देखते हुए फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों (French President Emmanuel Macron) ने देशव्‍यापी लॉकडाउन लगाए जाने की घोषणा की है। फ्रांसीसी राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने शनिवार से चार सप्ताह का देशव्यापी लॉकडाउन लगाने की घोषणा की है। हाइलाइट्स :-- फ्रांस में कोरोना की तीसरी लहर- फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने देशव्यापी लॉकडाउन लगाने का आदेश दिया- स्कूल तीन सप्ताह के लिए रहेंगे बंद Countrywide COVID lockdown in France फ्रांसीसी राष्ट्रपति ने शनिवार से चार सप्ताह का देशव्यापी लॉक डाउन लगाने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि इस दौरान केवल ज़रूरी सामान की दुकानों को खुलने की इजाज़त होगी और लोगों क...
लॉकडाउन के एक साल, सबका बुरा हाल: One Year of Lockdown in India

लॉकडाउन के एक साल, सबका बुरा हाल: One Year of Lockdown in India

Latest News, India
It's been a year since India went under lockdown after Covid-19 sparked in India. Indian Prime Minister Narendra Modi ordered a strict lockdown on 23rd March 2020. This has impacted Indian people's life in many ways. Lets analyse one year of lockdown in India. https://www.youtube.com/watch?v=3w9rrUBt1EM The Ganga Times, COVID 19 News: कोरोना काल, गुज़र गए एक साल...आखिर क्या है आपकी जेब का हाल? कोरोना और लॉकडाउन को मिलाकर देखा जाय तो हम एक साल का दौर यूं ही गुजार चुके हैं और अभी भी लॉकडाउन का डर बना हुआ है। कहां तो ये बोला जा रहा था कि वैक्सीन (Covid-19 Vaccine) बन जाएगी, टीके लगने लगेंगे और स्थिति सामान्य हो जाएगी लेकिन अभी सब कुछ सामान्य नहीं हुआ है। आज भी दो गज दूरी, मास्क है ज़रूरी. Impact of Covid-19 Lockdown on People आज हम बात करेंगे लॉकडाउन और कोरोना के एक साल के वक्त...
कोरोना — एक महामारी या प्रकृति का बदला?

कोरोना — एक महामारी या प्रकृति का बदला?

Opinion
क्या कोरोनावायरस वास्तव में एक महामारी है या हम मनुष्यों द्वारा की गई एक भयानक भूल का परिणाम? कहीं प्रकृति मइया हमें हमारी गलतियों का सबक तो नहीं सीखा रही? Covid-19: A pandemic or nature's revenge? (Courtesy: CouncilOfEurope) प्रकृति की गोद में अपनी दुनिया सजाने वाला मानव देखते देखते अपनी आँखों में लालच का काजल लगाकर इस गोद को कलंकित कर बैठा। ये लालच इंसानी मष्तिष्क में घुसा एक ऐसा वायरस है जो किसी भी अन्य वायरसों से अधिक खतरनाक मालुम पड़ता है। इसके आगे मनुष्य अपना विवेक खो बैठता है और धन सृजन करने की पराकाष्ठा को पार कर जाता है। इंसानो में इंसानी मूल्य कहे जाने वाले तत्वों का बहुत तेजी से नाश हुआ है जिसके कारण आने वाले दिनों में भी अनगिनत आपदाओं का सामना करना पड़ सकता है।हाल के दिनों में ये पाया गया है की मानव प्रजाति अपना मुँह छिपाये फिर रहा है और सब एक एक बन्दे को पकड़कर बंद क...
जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं: PM Modi

जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं: PM Modi

India, Latest News, Politics, आपकी खबरें आपकी भाषा में
मंगलवार की शाम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत की जनता को संबोधित करते हुए अनेक बातों पर चर्चा किया। उन्होंने लोगों को कोरोना से बचने के लिए सतर्क रहने पर जोर दिय। प्रधानमंत्री ने कहा की एक लापरवाही आपकी ख़ुशियाँ ले सकती है- "जब तक कोरोना की दवाई नहीं, तब तक कोई ढिलाई नहीं।" लोगों को जागरूक होने की जरुरत है, बाहर निकलने पर मास्क पहनना अनिवार्य बनाएं।  Narendra Modi, Prime Minister of India कोरोना महामारी के बीच देश के नाम संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को दो गज की दूरी और समय-समय पर साबुन से हाथ धोने की भी सलाह दी। जनता कर्फ्यू से लेकर आज तक हमने लंबा रास्ता तय किया है लेकिन हमें और भी बेहतर होना होगा। 'लॉकडाउन खत्म होने का मतलब यह कतई नहीं कि बीमारी भी खत्म हो गई हो। अतः हमें सतर्क रहने की आवश्यकता है।' आर्थिक गतिविधियाँ भी समय के साथ पटरी पारा रही हैं। बहुत स...