Sunday, May 26
Shadow

Tag: Kisan Andolan

महामारी के वक़्त किसानों का आंदोलन करना कितना जायज? Farmers Protest

महामारी के वक़्त किसानों का आंदोलन करना कितना जायज? Farmers Protest

COVID-19, India, Latest News, Opinion
#FarmersProtest: While farmers are planning to launch a new protest in various parts of North India, a big question arises on whether to gather in large number or not, keeping in view the Covid-19 pandemic in India. Farmers protest during pandemic. The Ganga Times, Farmers Protest: कोरोना के मामले कम होने शुरू हो गए है, हालांकि खतरा अभी पूरी तरह से टला नहीं है। रोज़ाना महामारी के अंदर से एक नई महामारी निकल रही है। कही ब्लैक फंगस तो कही वाइट फंगस के मामलो में बढ़ोत्तरी की बात हो रही है। और इसी बीच कल शाम एक खबर आती है कि केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसान एक बार फिर बड़ा प्रदर्शन करने की तैयारी में है। रविवार को हरियाणा के करनाल से हजारों की संख्या में किसान दिल्ली के समीप सिंघु बॉर्डर के लिए रवाना हुए है। किसान इस महामारी के माहौल में दोबारा से क्यों इकट्ठा हो रहे हैं? पंजाब...
बिहार सरकार का किसानों को तोहफा; जाने क्या है नए बदलाव: Farmers’ Protest Impact

बिहार सरकार का किसानों को तोहफा; जाने क्या है नए बदलाव: Farmers’ Protest Impact

Latest News, Bihar, आपकी खबरें आपकी भाषा में
Amidst Farmers' Protest in the national capital Delhi, Nitish Kumar government has given certain gifts to Bihari farmers. Let's know what are those changes that affect Bihar's farming sector. The Ganga Times, Gaya: देश की राजधानी दिल्ली में पिछले दो से अधिक हफ़्तों से कृषि कानूनों के खिलाफ देश के किसान प्रदर्शन कर रहे हैं (Farmers protest in Delhi)। केंद्र की मोदी सरकार (Modi Government) द्वारा लाए गए तीन कृषि कानूनों (Farm Laws 2020) का किसान पुरजोर विरोध कर रहे हैं, जिससे केंद्र ही नहीं बल्कि कई राज्यों की सरकारें भी बैकफुट पर आ गई है। पिछले 15 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर किसानों ने अपना डेरा जमा लिया है। किसान और केंद्र सरकार दोनों अपनी अपनी बात पर अड़े हुए हैं। किसानों को तीनों कानून वापस चाहिए और सरकार है की उन कानूनों में कुछ संशोधन करके मामले का निपटारा करना चाहती है।वहीँ दिल...
Godi Media की जहालत, पक्षपात, चाटुकारिता ने पत्रकारिता की साख को ध्वस्त किया है: Farmers’ Protest

Godi Media की जहालत, पक्षपात, चाटुकारिता ने पत्रकारिता की साख को ध्वस्त किया है: Farmers’ Protest

Latest News, Opinion
The way a large section of Indian Media has slandered the ongoing farmers protest, discredits its own image. The term 'Godi Media' becomes even more relevant after a series of consistent efforts by media outlets such as Aaj Tak, Zee News, Republic TV, Times Now, etc. to defame protestors with no substantial evidence. जब भारत के अन्नदाता राजधानी दिल्ली और सटे इलाकों में पिछले दो हफ़्तों से नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi government) द्वारा लाये गए तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे हैं, मीडिया के एक वर्ग लगातार उनके खिलाफ आग उगल रहा है। खालिस्तान समर्थक (Khalistan supporters) , विदेशी कंपनियों द्वारा लाये गए भाड़े के टट्टू, देश विरोधी तत्व (anti-national elements) -- देश की राष्ट्रीय मीडिया ने मेहनतकश किसानों के चरित्र हनन करने के लिए हर तरह के आग उगले। यही कारण है की कुछ मीडिया चैन...