Sunday, May 26
Shadow

महिला पुलिस ने महाबोधि मंदिर में इस गाने पर बनाई रील्स तो हुई सस्पेंड

ड्यूटी के दौरान महाबोधि मंदिर में रील बनाने वाली दो महिला पुलिस को SSP ने सस्पेंड कर दिया। वीडियो वायरल होते ही महिला पुलिस को सस्पेंड कर दिया गया.

Mahabodhi Temple Viral Video

रील्स का क्रेज बढ़ने के कारण आजकल कई महिला पुलिसकर्मी ड्यूटी के दौरान रियल बनाकर वीडियो सोशल मीडिया पर पोस्ट करती हैं। फेसबुक और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म न केवल आम जनता के बीच लोकप्रिय हैं, बल्कि पुलिस अधिकारी भी रील बनाने में सक्रिय रूप से भाग ले रहे हैं। रील बनाने का क्रेज इतना बढ़ गया है कि महिला पुलिस अधिकारी भी अपनी जिम्मेदारियां भूलती नजर आ रही हैं. महिला पुलिस अधिकारियों पर अब रील बनाने का बुखार चढ़ा हुआ है। बिहार के बोधगया स्थित महाबोधि मंदिर की सुरक्षा में लगी एक महिला पुलिस अधिकारी का एक वीडियो इन दिनों इंस्टाग्राम पर तेजी से वायरल हो रहा है.

महाबोधि मंदिर के अंदर सुरक्षा में तैनात महिला कांस्टेबल ड्यूटी के दौरान अपनी ड्यूटी पर ध्यान देने से ज्यादा रील बनाने में लगी नजर आ रही हैं. महाबोधि मंदिर में तैनात वर्दीधारी दो महिला पुलिसकर्मी हिंदी फिल्मी गानों पर डांस कर रही हैं और रील बना रही हैं. यह घटना कानून प्रवर्तन कर्मियों के सोशल मीडिया ट्रेंड में शामिल होने और कभी-कभी अपनी पेशेवर जिम्मेदारियों से समझौता करने की बढ़ती प्रवृत्ति को उजागर करती है। वर्दीधारी कर्तव्य और रील बनाने के मिश्रण को प्रदर्शित करने वाला वीडियो सोशल मीडिया पर व्यापक ध्यान आकर्षित कर रहा है।

जिस इंस्टाग्राम अकाउंट पर यह वीडियो अपलोड किया गया है, उस पर 2036 पोस्ट, 30.6K फॉलोअर्स और 235 अकाउंट फॉलो हैं। महाबोधि मंदिर के अंदर दो महिला पुलिस अधिकारियों का रील बनाते हुए वीडियो इंस्टाग्राम पर वायरल होने के बाद अधिकारी चिंतित हो गए। वायरल वीडियो के बाद डीएम डॉक्टर त्याग राजन और एसएसपी आशीष भारती ने संबंधित अधिकारियों को जांच करने का निर्देश दिया है. जांच का जिम्मा बोधगया के डीएसपी को सौंपा गया था.

जांच करने का निर्णय पुलिस जिम्मेदारियों की अखंडता बनाए रखने की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। यह घटना सोशल मीडिया और पेशेवर दायित्वों के अंतर्संबंध को उजागर करती है, जिससे कर्तव्य और ऑनलाइन गतिविधियों के बीच उचित संतुलन सुनिश्चित करने के लिए कानून प्रवर्तन अधिकारियों द्वारा गहन जांच की जाती है।

दोनों महिला पुलिसकर्मी बिहार विशेष सशस्त्र बल महिला बटालियन सासाराम की हैं और पिछले दिनों महाबोधि मंदिर की सुरक्षा में तैनात किया गया था.

Keep visiting The Ganga Times for such beautiful articles. Follow us on FacebookTwitterInstagram, and Koo for regular updates.

%d bloggers like this: