Thursday, November 30
Shadow

देवर और दो भाभियों के बीच नालंदा में हुआ अजब प्यार और शादी का मामला

नालंदा, बिहार में देवर के साथ दो भाभियों के बीच एक अजीब मामले का सबाब बना, जिसमें प्यार और शादी के लिए मारपीट हो गई। मामले के बाद, विधवा भाभी की शादी हुई, लेकिन घटना ने समाज में चर्चा और हंसी का सामना कराया।

Nalanda me do bhabhi ek devar se shadi krne ko taiyaar
Nalanda me do bhabhi ek devar se shadi krne ko taiyaar

बिहार के नालंदा जिले में हिलसा थाना इलाके के एक घटना ने समाज को हिला दिया है, जिसमें एक देवर के साथ दो भाभियों के बीच प्यार और शादी के मामले में एक दिलचस्प घटना घटी। यह किस्म की घटनाएं जोड़कर हमें यह दिखाती हैं कि प्यार कब, कहां और किससे हो सकता है, और यह किसी के नियमों या समाजिक प्रतिष्ठा के आधार पर नहीं होता।

मामले की शुरुआत महेंद्र पासवान के द्वारा की जाती है, जो बिहार के नालंदा जिले के मालामा गांव में निवास करते हैं। महेंद्र के तीन बेटे थे, और उनमें से एक कुंवारा था। कुछ साल पहले, महेंद्र के छोटे पुत्र की पत्नी की मौत हो गई थी, जिसके बाद युवक विधवा भाभी से शादी करने का फैसला किया। कुंवारे देवर ने विधवा भाभी से शादी के आयोजन के लिए उन्हें कोर्ट बुलाया, और सब कुछ ठीक चल रहा था। लेकिन इसी दौरान, मामले में एक नया मोड़ आया, जिसके बाद पूरे इलाके में चर्चा और चौंकाने वाली खबर हो गई।

मामले के अनुसार, महेंद्र के बड़े और मंझले भाई की पत्नियां उससे शादी करने के लिए राजी हो गईं थीं, जब उनके बड़े भाई की मौत हो गई। दोनों भाभियों के बीच मारपीट की घटना के बाद पुलिसकर्मी जल्दी से आकर्षण बढ़ गया और यह एक बड़ा हंगामा बन गया। मारपीट के बाद पुलिसकर्मी तुरंत ही मौके पर पहुंचे और स्थिति को संभाला।

विधवा भाभी से शादी करने जा रहे थे देवर, लेकिन फिर क्या हुआ? बड़ी भाभी भी देवर से शादी करने के लिए उसके पास पहुंच गईं। इसके बाद, महिलाओं के परिजन भी इस मुद्दे में शामिल हो गए और मामले की गतिविधियों को बढ़ा दिया।

मामले में दोनों महिलाएं आपस में बात करके मामले की सुलझाने की कोशिश की, लेकिन जल्द ही मामला बिगड़ गया और हाथापाई की घटना घट गई। इस घटना को देखकर तमाशबीनों की भीड़ जम गई, और मौके पर तबादले की आशंका होने लगी।

पुलिस तुरंत ही मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को रोकने में सफल रही। विधवा भाभी से हरेंद्र की शादी कराई गई, जबकि बड़ी भाभी को पुलिस अपने साथ ले गई। मामले के बाद, कोर्ट परिसर में देवर और विधवा भाभी की शादी संपन्न हुई।

इस मामले के बारे में लोग अब भी चर्चा कर रहे हैं, और यह विचार कर रहे हैं कि क्या हो सकता है जब दो भाभियों के बीच प्यार और शादी के लिए देवर के साथ हाथापाई हो जाती है। यह घटना समाज को यह सिखाती है कि प्यार की कोई नियम नहीं होता और किसी भी समय कुछ अच्छा या बुरा हो सकता है।

Keep visiting The Ganga Times for such news. Follow us on FacebookTwitterInstagram, and Koo for regular updates.

%d bloggers like this: