Friday, June 14
Shadow

Culture

Happy New Year 2022: Wishes & Quotes for Friends & Family

Happy New Year 2022: Wishes & Quotes for Friends & Family

Latest News, Culture
New Year 2022 is here. It comes with an opportunity to wish your near and dear ones all the very best for the coming year. With the world ready to welcome 2022 with open arms, let's forget everything bitter that has happened in 2021 and get positive. We, at The Ganga Times, also wish you a very Happy New Year 2022. 2020 has been a mad year but I am so grateful I had you by my side throughout. Happy New Year 2021.In an extraordinary year, I’ve been grateful for your extraordinary friendship…. thank you. And cheers to new beginnings!In a challenging year, you stood by me like a rock. I hope I can do the same for you in 2021. Happy New Year 2021!I’m so grateful for your support and love this year. Here’s to many more years of friendship!Here’s to another year of making memories with y...
10 Most Beautiful and Famous Hindu Temples in India

10 Most Beautiful and Famous Hindu Temples in India

Culture, Religion, Travel
Being a Hindu-majority country, India is home to hundreds of temples that have a history of several centuries. The article contains a list of some of the most beautiful temples in India that attract a large number of devotees. Let's look at the famous temples in India. List of the most amazing Hindu temples in India India — the birthplace of Dharmic religions, is home to thousands of incredible places of worship. From Kashmir in the North to Kanyakumari in the South and from Kutch in the West to Arunachal in the East, one can find a limitless number of temples in India. Almost every nook and corner of the country has a temple, showcasing the rich tradition of the home of the oldest religion in the world. Even temples in Gaya, Ujjain, Dimapur, Prayagraj, and other small cities of Bh...
माता वैष्णो देवी के पास घूमने की जगह: 5 Places to visit near Vaishno Devi ke pass ghumne ki jagah

माता वैष्णो देवी के पास घूमने की जगह: 5 Places to visit near Vaishno Devi ke pass ghumne ki jagah

Culture, Religion, Travel
The sacred journey of Mata Vaishno Devi is an incredible experience. But if you wish to double your enjoyment, go to these places to visit near Vaishno Devi. Katra ke paas ghumne ki jagah. Jammu aur Mata Vaishno Devi ke pass ghumne ki jagah. माता वैष्णो देवी के दरबार में हर साल करोड़ों लोग माथा टिकाने जाते हैं और आस्था की पवित्र गंगा में डुबकी लगाकर लौट आते हैं। इस पवित्र यात्रा पर जाने वाले ज्यादातर लोग वैष्णो देवी दर्शन को महज़ एक धार्मिक यात्रा मानते हैं। जबकि माता का घर अपने आप में एक खूबसूरत वातावरण को प्रदर्शित करता है। शायद माता इसी चित्ताकर्षक अनुभव को महसूस कराने के लिए अपने भक्तों को पास बुलाती है।  कई लोग वैष्णो देवी के दर्शन के बाद आसपास की खूबसूरत जगहों पर घूमना चाहते हैं। अगर आप भी माता का आशीर्वाद लेकर कटरा और जम्मू के पास की बेहतरीन ख़ूबसूरती को निहारना चाह...
ईद उल-फ़ित्र क्यों मनाया जाता है? Eid kyu manaya jata hai?

ईद उल-फ़ित्र क्यों मनाया जाता है? Eid kyu manaya jata hai?

Latest News, Culture, Fact, Religion
Eid ul-Fitr one of the biggest festivals in the world. It is celebrated on the first day of Shawwal month after the end of Ramzan. Know Eid kyu manaya jata hai and the history of Eid ul-fitr. Also, know about the Battle of Badr and the story associated with Prophet Muhammad's Madina visit. Jaane Eid kyu manaya jata hai. Kya hai Eid ul fitr ki kahani? (Courtesy: FPJ) The Ganga Times, Eid Mubarak: प्रेम और भाईचारे का त्यौहार, ईद उल-फ़ित्र (Eid al fitr) दुनिया भर में बड़े धूमधाम से मनाया जाता है। इस्लामिक कैलेंडर का नौंवा महीना, रमजान (Ramzan) के ख़त्म होते ही चाँद रात के अगले दिन ईद होता है। दसवां महीना शव्वाल (Shawwal) चांद देखने के साथ ही शुरू होता है। जब तक चांद नहीं दिखे तब तक रमजान का महीना खत्म नहीं माना जाता। इस्लामिक इतिहासकार (Islamic Scholars) ये भी मानते हैं कि आज के दिन ही...
मदर्स दे क्यों मनाया जाता है? Mothers day kyu manaya jata hai?

मदर्स दे क्यों मनाया जाता है? Mothers day kyu manaya jata hai?

Latest News, Culture, Poetry and Shayari
Know why is Mothers Day celebrated. History of Mothers Day. Mothers day kyu manaya jata hai? माँ!क्या लिखूं उसके बारे में जिसने मुझे लिखना सिखाया हो?मेरी हैसियत ही क्या उसके सामने जिसने मेरी हैसियत को गढ़ा हो?माँ है वो — ब्रह्माण्ड की रचयिता है, जगत जननी है।मैं क्या लिखूंगा उसके बारे में? हमारी गलतियां, हमारा गुरूर, गुस्सा सब चुपचाप अंदर दबा लेती है।दुखों के पहाड़ को सीने पे रखकर हमारे मंगल की कामना करती है वो।जिसके जीवन में सिर्फ एक ही मकसद है – तुम्हें खुश देखना।क्या बोलूं मैं उसके बारे में, जिसने मुझे बोलना सिखाया। माँ की महिमा का बखान तो अनंत काल तक ख़त्म ही नहीं हो सकता। Mothers Day Kyu Manaya Jata Hai? Mothers day kyu manaya jata hai? Why is Mothers Day celebrated? आज अंतर्राष्ट्रीय मातृ दिवस है। International Mother's Day। मई महीने का दूसरा रविवार दुनियाभर के माँओ...
Rajasthan Diwas: Maharana Pratap की जन्मभूमि राजस्थान कि गौरव गाथा

Rajasthan Diwas: Maharana Pratap की जन्मभूमि राजस्थान कि गौरव गाथा

Latest News, Culture, India
Rajasthan state came into existence on 30 March 1949 when Rajputana – the name adopted by the Britishers – was merged into the Dominion of India. Rajasthan Diwas or Rajasthan Day is celebrated across the state with pump and show every year on March 30. Maharana Pratap (Courtesy: Naidunia) The Ganga Times, Rajasthan Diwas: आज वीर-भूमि राजस्थान अपना 72वां स्थापना दिवस मना रहा है। जी हां, आज से 72 साल पहले आज ही के दिन राजस्थान राज्य की स्थापना की गई थी. साल 1949 में 22 रियासतों को मिलाकर राजपुताना राजस्थान की स्थापना की गई थी. इस एकीकरण में 8 साल 7 महीने और 14 दिन का वक्त लगा था. राजस्थान क्षेत्रफल की दृष्टिकोण से देश का सबसे बड़ा और जनसंख्या के मामले में सातवां बड़ा राज्य है. गंगा टाइम्स की तरफ से आप सभी देशवासियों को राजस्थान दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं! 30 म...
डॉ सुमित कुमार की ‘सिगरेट चाय और तुम’ अमेजन पर आ चुकी है

डॉ सुमित कुमार की ‘सिगरेट चाय और तुम’ अमेजन पर आ चुकी है

Culture
बोध-गया के कवि डॉ सुमित कुमार की 'सिगरेट चाय और तुम' रिलीज हो चुकी है। आप उसे अमेजन से खरीद सकते हैं। आइये जानते हैं कौन है सुमित कुमार और कैसी है उनकी पुस्तक। The Ganga Times: 'सिगरेट चाय और तुम' पुस्तक के लेखक डॉ सुमित कुमार मूलतः गाँव कटोरवा मोचारिम, बोधगया बिहार से ताल्लुक रखते हैं। इन्होंने गया कॉलेज, गया से 12वीं तक पढ़ाई की और फिर चीन के जियामूसी मेडिकल यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त की। फिलहाल कोरोना काल में सुमित सक्रिय रुप से वी वाय हॉस्पिटल रायपुर में कार्यरत हैं. ये 21वी सदी के रोमानी लेखक हैं जिनकी कलम प्यार की नब्ज पर चलती हैं। कई अंतर्राष्ट्रीय, राष्ट्रीय मैगजिंस में इनकी कविताएँ व लेख प्रकाशित हो चुकी हैं।ये दिल्ली, जयपुर और रायपुर सहित विभिन्न शहरों के कई ओपन माइक पलैट्फ़ॉर्मस पर पर्फ़ॉर्म कर चुके हैं। इनकी नज़्म और ग़ज़ल आधुनिक समाज के सोच को...
Merry Christmas Wishes: 10 Status, Quotes, Messages, and Greetings

Merry Christmas Wishes: 10 Status, Quotes, Messages, and Greetings

Latest News, Culture, Religion
Merry Christmas: let's wish your near and dear ones a very happy Christmas and Happy New Year in advance. Let's send Santa Images, Status, Quotes, Messages, and Photos to wish your loved ones a Merry Christmas and a Happy New Year! WishesMag The festival of Christmas is all about the inner soulful enjoyment of life. It defines celebrating with hymns, carols, and delicious meals before the beginning of a new and wonderful year. Particularly, in the year dominated by the Covid-19 pandemic, Christmas has become even more special. People are seeking some quality time in the festive season. It is always beautiful to wind up a season by celebrating it with family and friends, since there cannot be a better company than your near ones. Let's wish those who care about you and thank them...
जन-दबाव में झारखण्ड सरकार ने दी नदी, तालाब किनारे छठ की इजाज़त; दिल्ली, मुंबई में अभी भी रोक

जन-दबाव में झारखण्ड सरकार ने दी नदी, तालाब किनारे छठ की इजाज़त; दिल्ली, मुंबई में अभी भी रोक

Culture, Latest News, आपकी खबरें आपकी भाषा में
Hemant Soren’s Government of Jharkhand has reversed his previous decision of not allowing Chhath Puja in Jharkhand near rivers and ponds under public pressure. Chhath Puja in Jharkhand can now be celebrated near rivers and ponds. Gaya: हेमंत सोरेन की झारखण्ड सरकार (Hemant Soren, CM of Jharkhand) ने कुछ दिन पहले नदी, तालाब, आदि के किनारे छठ पूजा मनाने पर रोक लगा दिया था। कल हेमन्त सरकार (Hemant Soren Government) द्वारा जारी दिशा निर्देश में पुराने नियमों को बदल दिया है और छठ पूजा व्रतियों को नदी, तालाब पर पूजा की मिली अनुमति दे दी है।  राज्य को भाजपा यूनिट (BJP Jharkhand) ने इसे जनभावना की जीत बताई है। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि ये लोक आस्था के महापर्व के श्रद्धालुओं की जीत है। ‘तुष्टिकरण और वोट बैंक की राजनीति और हेमन्त सरकार की गलत नीतियों के विरुद्ध यह ज...